कोविंद चुने गये देश के नये राष्ट्रपति…

नयी दिल्ली, 20 जुलाई। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद देश के नये राष्ट्रपति चुने गये हैं, राष्ट्रपति पद के चुनाव की आज हुई मतगणना में श्री कोविंद ने विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को भारी मतों के अंतर से हराकर विजयी हुए हैं। उन्हें निर्वाचक मंडल के कुल मत मूल्य का 65.65 प्रतिशत वोट मिला है जबकि श्रीमती कुमार को 34.35 प्रतिशत मत मूल्य मिला। निर्वाचन अधिकारी एवं लोकसभा के महासचिव अनूप मिश्रा ने यहां संवाददाताओं को बताया कि सांसदों और विधायकों के कुल 4896 वोट थे, जिनमें से 4851 मत डाले गये, जिनका मत मूल्य 1090300 था। इनमें से श्री कोविंद को 2930 वोट मिले, जिनका मत मूल्य 702044 है। श्रीमती कुमार को 1844 वोट मिले, जिनका मत मूल्य सिर्फ 367314 है। श्री मिश्रा ने बताया कि कुल 77 मत अवैध पाये गये, जिनका मत मूल्य 20942 है। इनमें 21 वोट सांसदों के तथा शेष विधायकों के थे। कुल 776 सांसदों में से 768 के मत पड़े, जिनका मत मूल्य 543744 था। इनमें से 522 ने श्री कोविंद के पक्ष में मतदान किया, जिनका मत मूल्य 369576 है जबकि श्रीमती कुमार को 225 सांसदों ने वोट दिया, जिनका मत मूल्य 159300 है। इक्कतीस राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के कुल 4120 विधायकों में से 4083 के मत पड़े, जिनका कुल मत मूल्य 546556 है। आंध्र प्रदेश विधानसभा के कुल 175 मतों में से श्रीमती कुमार को एक भी मत नहीं मिला जबकि श्री कोविंद को 27189 मूल्य के 171 मत प्राप्त हुए। बिहार में कुल 243 मतों में से 242 वोट पडे जिसमें से श्रीमती कुमार को 109 मत मिले जबकि श्री कोविंद को 130 मत प्राप्त हुए हैं। इनके मतों के कुल मूल्य क्रमश: 18857 और 22,490 थे। गुजरात में राजग उम्मीदवार को कुल 19 हजार 404 मूल्य के 132 मत मिले हैं, जबकि श्रीमती कुमार को 7203 मत मूल्य के 49 मतों से संतोष करना पड़ा है। झारखंड के कुल 81 वोटों में से श्री कोविंद को 8976 मूल्य के 51 वोट, हरियाणा में 8176 मूल्य के 73 मत, जम्मू कश्मीर में 4032 मूल्य के 56 मत और छत्तीसगढ़ में 6708 मूल्य के 52 मत मिले हैं, जबकि श्रीमती कुमार को इन राज्यों में क्रमश: 26 वोट (4576 मूल्य), 16 वोट (1792 मूल्य), 30 वोट (2160 मूल्य) और 35 वोट (4515 मूल्य) प्राप्त हुए हैं।
श्रीमती कुमार को हिमाचल प्रदेश में अपने प्रतिद्वंद्वी से सात वोट अधिक मिले हैं। विपक्ष की उम्मीदवार को जहां 37 मत मिले हैं, वहीं राजग उम्मीदवार को 30 मत प्राप्त हुए हैं, जिनके मतों का मूल्य क्रमश: 1887 और 1530 है। अरुणाचल प्रदेश में राजग उम्मीदवार को 56 मत (448 मूल्य) मिले, जबकि विपक्ष की उम्मीदवार के पक्ष में तीन मत (24 मूल्य) पड़े। गोवा में 25 मत श्री कोविंद को मिले हैं, जिसका मत मूल्य 500 है। इस राज्य में श्रीमती कुमार को 11 वोट मिले, जिसका मत मूल्य 220 है। असम में शत-प्रतिशत 126 वोट पडे जिनमें से श्री कोविंद को 91 वोट (मत मूल्य 10556 )जबकि श्रीमती कुमार को 35 वोट ( 4060 ) मिले। कर्नाटक के कुल 224 वोटों में से 222 मत पड़े। इनमें से श्रीमती कुमार को 163 वोट (21353) और श्री कोविंद को 56 वोट (7336) है। उत्तर प्रदेश में कुल 403 वोट मे से 402 डाले गये। श्री कोविंद को 335 (69680) और श्रीमती कुमार को 65(13520) मिले। पश्चिम बंगाल में शत -प्रतिशत 294 मत पड़े । यहां श्रीमती कुमार को श्री कोविंद से ज्यादा वोट मिले। श्रीमती कुमार 273 (41223) और श्री कोविंद को सिर्फ 11 (1661) मिले। महाराष्ट्र में कुल 288 वोटों में 287 डाले गये। यहां श्री कोविंद को 208(36400) और श्रीमती कुमार को वोट 77 (13435) मिले। तमिलनाडु के कुल 234 वोटों में से 232 डाले गये। श्री कोविंद को 134(23584) जबकि श्रीमती कुमार को 98(17248) वोट मिले। मध्यप्रदेश के कुल 230 में से 228 वोट डाले गये। इनमें से राजग उम्मीदवार को 171 (22401) जबकि और विपक्ष की प्रत्याशी को 57(7467) वोट मिले। राजस्थान के शत -प्रतिशत 200 वोट पड़े जिनमें से श्री कोविंद को 166 (21414) और श्रीमती कुमार को 34(4386)वोट मिले। ओडिशा में कुल 147 में से 146 वोट पड़े। इनमें से श्री कोविंद को 127(18923) जबकि श्रीमती कुमार को 17(2533) वोट मिले। पंजाब में कुल 117 में से 116 वोट डाले गये। इनमे से श्रीमती कुमार को 95 (11020) जबकि श्री कोविंद को 18 (2088) मत मिले। उत्तराखंड में शत -प्रतिशत 70 वोट पड़े जिनमें से श्री कोविंद को 59(3776) और श्रीमती कुमार को 11(704)वोट मिले। देश की राजधानी दिल्ली में कुल 70 में से 67 वोट डाले गये जिनमें से श्रीमती कुमार को 55 (3190) और श्री कोविंद को छह (348 ) वोट मिले। केंद्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी में भी शत -प्रतिशत 30 वोट पड़े।

गुजरात में नौ कांग्रेस विधायकों ने किया कोविंद के पक्ष में मतदान

गांधीनगर, 20 जुलाई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृहराज्य गुजरात में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव तथा अगले ही माह राज्यसभा की तीन सीटों के चुनाव के ठीक पहले मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के लिए एक बड़े झटके के तहत इसके कम से कम नौ तथा अधिकतम 11 विधायकों के राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा समर्थित राजग के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष मतदान करने का खुलासा हुआ है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.