कानपुर में ताजिया पर हो गया बवाल…

पथराव, आगजनी, पुलिन ने छोड़ी अश्रु गैस, स्थिति नियंत्रण में

कानपुर, 01 अक्टूबर। यूपी के कानपुर के जूही थाना क्षेत्र के परामपुरवा में बिना रूट के ताजिया ले जाने पर दो पक्षों में जमकर बवाल हुआ है। इस हिंसा में दोनों पक्षों की तरफ से ईंट और पत्थर फेंके गए हैं। कुछ शरारती तत्वों ने गाडिय़ों में तोडफ़ोड़ के साथ ही आगजनी शुरू कर दी। पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े। कई लोगों के घायल होने की सूचना है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।
इस बवाल की सूचना मिलते ही डीआईजी सोनिया सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गई। हालात को काबू में करने के लिए पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से अतिरिक्त फोर्स भेजी गई है। पीएसी और आरएएफ की एक-एक कंपनी तैनात है। एडीजी कानून व्यवस्था आनंद कुमार भी हालात का जायजा लेने के लिए लखनऊ से कानपुर पहुंच रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, बलिया में शनिवार को दशहरा मेले में हुए सांप्रदायिक हिंसा के बाद रविवार को मोहर्रम के ताजिया के दौरान एक समुदाय के लोग उग्र हो गए। दोनों पक्षों में जमकर बवाल हुआ। नाराज लोगों ने दुकान और कई मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया। हिंसा की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन मुस्तैद हो गया। इलाके में कफ्र्यू लगा दिया गया। पुलिस ने हालात काबू करने के लिए लाठीचार्ज के साथ ही हवाई फायरिंग की है। हिंसा करने वालों पर आंसू गैस के गोले दागे गए। इसके बाद स्थित को नियंत्रण में कर लिया गया। पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवान इलाके में गश्त कर रहे हैं। डीआईजी, एसएसपी, एसपी, डीएम सहित आलाधिकारी मौके पर जमे हुए हैं। हालात काबू में, लेकिन तनाव बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.