कांग्रेस ने भाजपा से छीनी गुरदासपुर लोकसभा सीट…

गुरदासपुर, 15 अक्टूबर। पंजाब की सीमावर्ती गुरदासपुर लोकसभा सीट पर सत्तारूढ़ कांग्रेस ने लंबे समय के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा )अकाली गठबंधन को एक लाख 93,219 मतों के अंतर से हराकर आज यह सीट जीत ली। इस सीट पर 11 अक्टूबर को मतदान हुआ था। कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़,भाजपा गठबंधन के स्वर्ण सलारिया और आम आदमी पार्टी केेे सुरेश ख्रजूरिया को चुनाव मैदान में उतारा था। राज्य चुनाव आयोग के अनुसार श्री जाखड़ को 499752 वोट मिलेे तथा श्री सलारिया को 306533 तथा श्री खजूूरिया को 23579 वोट मिले। दोनों बडी पार्टियों को छोड़कर सभी उम्मीदवार अपनी जमानतेेें नहीं बचा पाये। चुनाव प्रचार मेें भाजपा तथा कांग्रेस आलाकमान नेे भाग नहीं लिया। श्री जाखड़ केे लिये मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने प्रचार के अंंतिम दिन रोड शो करके लोगों से वोट मांंगे। श्री सलारिया के लियेे प्रदेेश भाजपा तथा अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल नेे अंतिम समय तक प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी। आप ने भी प्रचार तो किया लेकिन कोई बडा नेता प्रचार के लिये नहीं पहुंचा। उसके कई स्थानीय नेता आप छोड़कर चले गयेे। आप नेेताओं केे अनुसार पार्टी इस सीट केेेवल उपस्थति दर्ज कराने के लिये लडी थी। भारत पाक सीमा से लगी इस ग्रामीण बहुल सीट पर लगभग 15 लाख 29 हजार मतदाता हैंं। सत्तारूढ़ कांग्रेस अध्यक्ष एवं उम्मीदवार सुनील जाखड़ का भाजपा गठबंधन प्रत्याशी स्वर्ण सलारिया से सीधा मुकाबला रहा। देश मेेंं लोकसभा चुनाव 2019 मेें होने हैं। उपचुनाव मेें चुनाव प्रचार आरोप प्रत्यारोप से शुरू होकर चरित्र हनन पर जाकर समाप्त हुआ। आप तथा भाजपा गठबंधन ने कांग्रेस सरकार को वादे पूरे न करने के लिये कोसा।
वहीं राज्य की खस्ता हालत के लिये कांग्रेस ने बादल सरकार को जिम्मेेदार बताया । आप ने दोनों दलों को एक सिक्के के दो पहलू करार दिया। इस सीट पर नौ विधानसभा हलके पड़ते हैं और इनमें से सात में कांग्रेस का कब्जा है तथा एक-एक सीट भाजपा तथा अकाली केे पास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.